Connect with us

अन्य

3 प्रतिभाशाली खिलाड़ी जिनके साथ अभीतक कप्तान बनने के बाद से ही नाइंसाफी करते दिखे विराट कोहली

नमस्कार दोस्तों, जैसा की आप सब जानते हैं भारत में सौरव गांगुली के समय से ही क्रिकेट में कप्तान अपने कुछ मुख्य खिलाड़ी का चयन कर लेते हैं. जिन्हें वो बैक कर देते हैं और फिर उन सभी को टीम में जगह देने के लिए किसी भी तक चले जाते हैं. ऐसा हम नहीं कहते है बल्कि खुद भारतीय खिलाडियों का ऐसा कहना हैं. इस तरह की बात न जाने कितनी बार युवराज सिंह, हरभजन सिंह और अनिल कुंबले जैसे दिग्गज खिलाड़ियों के मुंह से सुना गया है. इन सभी का यही कहना ही कि सौरव गांगुली उन्हें टीम में जगह देने के लिए चयनकर्ताओं से भी लड़ जाते थे.

इन तीन खिलाड़ियों के साथ विराट कोहली की बहुत नाइंसाफी

आपकी जानकारी के लिए बता दें, इसी तरह की हरकत भारतीय कप्तान विराट कोहली भी करते हैं, जब से उन्हें कप्तान बना गया हैं. उन्होंने तब से ही कुछ खिलाड़ियों को बैक किया है. परन्तु कुछ ऐसे भी खिलाड़ी रहे हैं जिन्हें शायद हमारे भारतीय कप्तान विराट कोहली पसंद नहीं करते शायद यही वजह है कि उन्हें टीम इंडिया में भी बहुत कम मौका ही मिल पता है.

बता दें, विराट कोहली की कप्तानी में के अंदर भारतीय टीम काफी अच्छा भी कर रहें है तो वही दूसरे तरफ इसके साथ यह भी देखा गया है कि कितने युवा खिलाड़ियों ने क्रिकेट में अपनी खास पहचान बनायी है. परन्तु इसके बाद भी विराट कोहली की कप्तानी में इनके साथ काफी काफी नाइंसाफी हुई है तो आइये डालते हैं ऐसे ही पांच खिलाड़ियों पर एक नजर…

शुभमन गिल

ये कहना बिलकुल भी गलत नहीं होगा कि भारतीय क्रिकेट टीम के युवा प्रतिभाशाली बल्लेबाज शुभमन गिल खुद को धीरे-धीरे साबित करने में लगे हुए हैं. शुभमन गिल का नाम सुर्ख़ियों में पहली बार साल 2018 के अंडर-19 विश्व कप में आय था. फिर उसके बाद से ही पंजाब के इस बल्लेबाज ने आईपीएल के साथ साथ ही घरेलू क्रिकेट में भी अपनी बहुत ही शानदार प्रदर्शन जारी किया। बीते साल 2019 में शुभमन गिल को भारत के लिए डेब्यू का मौका हासिल हुआ था, परन्तु कुछ वनडे मैच खेलने के बाद ही वो टीम से दूर होते चलें गए हैं. शुभमन गिल को अभी कुछ समाय पहले ही न्यूजीलैंड में भारत ए के लिए बहुत ही बेहतर प्रदर्शन करते हुए देखा गया था, जिसके बाद से ही उन्हें भारत की टेस्ट टीम में जगह भी दी गई .पंरतु प्लेइंग इलेवन से बाहर ही रखा गया। बता दें कप्तान विराट कोहली अब तक शुभमन गिल के साथ इंसाफी कर रहे हैं. वहीं जब रोहित शर्मा कप्तान थे तब उन्हें डेब्यू का मौका मिला था.

संजू सैमसन

आपकी जानकारी हेतु बता दें, भारतीय क्रिकेट टीम के अंर्तगत युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की किसी भी तरह से कमी नहीं है. भारतीय टीम के अंदर एक से बढ़कर एक युवा खिलाड़ी हैं. जिसमें केरल के विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन का भी नाम आता है. संजू सैमसन को सालों से घरेलू क्रिकेट और भारत ए के साथ ही आईपीएल में चमकदार प्रदर्श ककरते हुए देखा गया है. परन्तु उन्हें मौके के नाम पर अब तक सिर्फ गिनती के टी20 मैच ही खेलने का मौका प्राप्त हुआ है. संजू सैमसन ने साल 2015 में टी20 मैच के साथ अपना डेब्यू किया था जिसके बाद उन्हें साल 2020 में फिर से एक बार टीम में जगह मिली परन्तु इस बार उन्हें बस थोड़े ही मैच खेलने का मौका हासिल हुआ था. सबसे दुःख की बात तो यह है की संजू को तब ही खेल में शमिल किया जाता है. जब किसी खिलाड़ी को चोट लगती है. इससे तो यही साफ़ होता है कि कोहली संजू के साथ बहुत गलत कर रहे हैं.

दिनेश कार्तिक

भारतीय क्रिकेट टीम के अंदर विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने भी काफी अच्छा प्रदर्शन किया है. दिनेश कार्तिक ने बहुत ही मेहनत के साथ इस खेल की जगत में कदम में रखा था. दिनेश कार्तिक ने अपनी योग्यता साबित कर दुबारा खेल के जगत में कदम रखा. परन्तु विराट कोहली ने इनके साथ भी ज्यादा इंसाफ नहीं किया। इस समय यदि दिनेश कार्तिक की बात करें तो वो अभी टीम से बाहर हैं. उनके साथ तो कोहली ने इस बार कुछ ज्यादा ही अनदेखी की है. बता दें, कार्तिक को साल 2017 के चैंपियंस ट्रॉफी में भी मौका मिला था जहां भारत फाइनल तक पहुंचा था, परंतु इसके बाद भी कार्तिक को कोई भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला. इसी तरह से पिछले साल भी दिनेश कार्तिक को विश्व कप में भी मौका मिला था. परन्तु प्लेइंग इलेवन में उन्हें केवल दो मैच ही खेलने का मौका दिया गया जिसके बाद उन्हें टीम से ही सीधा बाहर कर दिया गया था.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories

Recent Posts